100+ परीक्षा हेतु महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द - पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं - समानार्थक शब्द की परिभाषा।

वर्तमान समय में आयोजित की जाने वाले कई सारे प्रतियोगी परीक्षाओं में हिंदी व्याकरण से संबंधित कई सारे ऐसे टॉपिक होते हैं, जो अक्सर पूछ लिए जाते हैं। उदाहरण के तौर पर ; कई बार परीक्षाओं में - संज्ञा, समास, समास, विशेषण, पर्यायवाची शब्द, विलोम शब्द, एक शब्द के अनेक शब्द और भी ऐसे कई सारे टॉपिक है। जिससे संबंधित प्रश्न देखने को मिल जाते हैं।

जाहिर सी बात है कि, यदि किसी विद्यार्थी को एग्जाम में अच्छा अंक प्राप्त करना हो तो, उन्हें प्रत्येक विषय के महत्वपूर्ण टॉपिक को सही तरीके से पढना बहुत जरुरी होता है। अधिकांश विद्यार्थी अधिक से अधिक अंक प्राप्त करने के लिए काफी अधिक मेहनत भी करते हैं।

100+ परीक्षा हेतु महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द, पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं, समानार्थक शब्द की परिभाषा, पांचवी कक्षा के लिए पर्यायवाची शब्द, paryayvac

यदि आप कक्षा 5वीं से 10वीं तक के विद्यार्थी हैं या विद्यार्थी रह चुके हैं, तो आपको पता होगा कि हिंदी व्याकरण में पर्यायवाची शब्द, परीक्षाओं के लिए कितना महत्वपूर्ण होता है। हां, यह अलग बात है कि एक 11वीं और 12वीं में जाने के बाद आपको कई सारे पर्यायवाची शब्द, याद हो गए होते हैं। इसलिए परीक्षाओं के समय में आपको ज्यादा कठिनाइयां नहीं होती है। लेकिन, कक्षा पांचवी से दसवीं तक हमें "पर्यायवाची शब्दों को याद करने" में काफी कठिनाइयां होती है।

इसलिए इन सभी चीजों को बेहतर तरीके से याद करने के लिए विद्यार्थी इंटरनेट पर कई सारी चीजें सर्च किया करते हैं। खासकर, अभी के समय में जब पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है, तो ऐसे में इंटरनेट पर सर्च करने वाले विद्यार्थियों की संख्या और भी अधिक बढ़ गई है। वे अक्सर अलग-अलग शब्दों की पर्यायवाची शब्दों के बारे में ढूंढने की कोशिश करते हैं और यह भी ढूंढने की कोशिश करते हैं कि वह इसे आसानी से कैसे याद रख सके। वे "पर्यायवाची शब्दों से संबंधित प्रश्न" भी पूछते हैं। जैसे :

  • नदी का "पर्यायवाची शब्द" क्या होता है?
  • अंधकार का "पर्यायवाची शब्द" क्या होता है?
  • क्रोध का "पर्यायवाची शब्द" क्या होता है?
  • आकाश का "पर्यायवाची शब्द" क्या होता है?
  • परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द?
  • 'पर्यायवाची शब्द' याद करने के तरीके!
  • 50 महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द?

वे इस तरह के प्रश्न पूछा करते हैं। इसलिए हमने इस लेख में कई सारे "महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्दों" को शामिल किया है, जो आपकी परीक्षाओं के लिए काफी महत्वपूर्ण है। इसलिए इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ें और अपने वैसे दोस्तों के साथ शेयर करें, जिन्हें इन पर्यायवाची शब्दों की जरूरत है। चलिए आगे बढ़ते हैं ....

---- ------ अपने दोस्तों को भेजें ------ ----

हमारी द्वारा डाली गई, नई लेख की जानकारी अपने मोबाइल फोन पर प्राप्त करने के लिए आप हमारे टेलीग्राम ग्रुप को भी ज्वाइन कर सकते हैं। जहां पर हम नई नई चीजों की जानकारी देते हैं।


लेकिन इससे पहले हमें यह समझना जरूरी है कि "पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं?" पर्यायवाची शब्द की परिभाषा क्या होती है? अर्थात पर्यायवाची शब्द का अर्थ क्या होता है? दोस्तों, पर्यायवाची शब्द को अन्य नाम से भी जाना जाता है। इनका अन्य नाम है - "समानार्थक शब्द" या "समानार्थी शब्द"। चलिए आगे बढ़ते हैं -----

पर्यायवाची शब्द किसे कहते है - पर्यायवाची शब्द क्या होता है - पर्यायवाची शब्द का अर्थ - पर्यायवाची शब्द की परिभाषा - समानार्थक शब्द किसे कहते हैं - समानार्थक शब्द की परिभाषा


वैसे शब्द, जो अलग-अलग शब्दों के समान अर्थ व्यक्त करते हैं, उन्हें "पर्यायवाची शब्द" कहा जाता है। अर्थात, एक समान अर्थ वाले शब्दों को "पर्यायवाची शब्द" कहते हैं। पर्यायवाची शब्द को "समानार्थक शब्द" या "प्रतिशब्द" भी कहते हैं।

ध्यान दें : पर्यायवाची शब्दों के अर्थ में समानता होते हुए भी कई बार इनके प्रयोग एक समान नहीं होते हैं।

पर्यायवाची शब्द की उत्पत्ति : पर्यायवाची शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है। जिसमें 'पर्याय' का अर्थ होता है - 'समान एवं 'वाची' का अर्थ है- 'कहा जाने वाला' अर्थात "शब्दों के एक समान कहे जाने वाले अर्थ को "पर्यायवाची शब्द" कहते हैं।"

पर्यायवाची शब्द को अंग्रेजी में क्या कहते हैं - पर्यायवाची शब्द मीनिंग इन इंग्लिश - समानार्थक शब्द इन इंग्लिश - समानार्थक शब्द इन अंग्रेजी


हिंदी भाषा में विभिन्न शब्दों के एक समान अर्थ बताने वाले शब्दों को "पर्यायवाची शब्द" कहते हैं या "समानार्थक शब्द" कहते हैं। ठीक उसी तरह से अंग्रेजी भाषा में भी विभिन्न शब्दों के एक जैसे अर्थ को बताने वाले शब्दों को "Synonyms" कहते हैं।

इसलिए हम सभी "पर्यायवाची शब्द" को अंग्रेजी भाषा में "Synonyms" कहते हैं।

इस लेख में हम लगभग 100 "महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द" या "समानार्थक शब्द" के बारे में बताने जा रहे हैं, जो विद्यार्थियों के लिए काफी उपयोगी है। विद्यालय एवं वर्तमान समय की प्रतियोगी परीक्षाओं में अक्सर इन पर्यायवाची शब्दों पर प्रश्न पूछे जाते हैं। आप इन सभी पर्यायवाची शब्दों को अच्छे से याद करें, ताकि आप परीक्षाओं में बेहतर अंक प्राप्त कर सकें।

नोट : वर्तमान समय के कई सारे प्रतियोगी परीक्षाओं में भी हिंदी व्याकरण से संबंधित "महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्दों" को पूछा जाता है। जो अंक प्राप्त करने का एक बेहतर अवसर प्रदान करती है, क्योंकि पर्यायवाची शब्द को याद करना काफी आसान होता है और आप इन पर्यायवाची शब्दों को याद कर, आप प्रतियोगी परीक्षाओं में बेहतर अंक प्राप्त कर सकते हैं।

100 महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द/समानार्थी शब्द - परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द - कक्षा पांचवी के लिए पर्यायवाची शब्द - कक्षा सातवीं के लिए पर्यायवाची शब्द - लिस्ट ऑफ पर्यायवाची शब्द इन हिंदी


  • अमृत : सुधा, पीयूष, अमिय, सोम, सुरभोग, जीवनोदक, अमी, मधु, दिव्य पदार्थ।
  • अंधकार : तम, तिमिर, अँधेरा, अँधियारा, ध्वांत, तमिस्र, तमस।
  • अकाल : सूखा, दुर्भिक्ष, भुखमरी, कमी।
  • अंधा : नेत्रहीन, चक्षुहीन, विवेकशून्य, दृष्टिहीन।
  • अहंकार : दर्प, दम्भ, अभिमान, घमण्ड, गर्व, मद।
  • अनुपम : अनूप, अपूर्व, अतुल, अनोखा, अद्भुत, अनन्य, अद्वितीय, बेजोड़, बेमिसाल, अनूठा, निराला, अभूतपूर्व, विलक्षण।
  • असुर : दैत्य, दानव, राक्षस, निशाचर, रजनीचर, दनुज, रात्रिचर, जातुधान, तमीचर, मायावी, सुरारि, निश्चिर, मनुजाद।
  • अधिकार : हक, स्वामित्व, स्वत्व, कब्जा, आधिपत्य।
  • अचल : अटल, अडिग, अविचल, स्थिर, दृढ़।
  • अनुमान : अंदाज, तखमीना, अटकल, कयास।
  • अपमान : अनादर, बेइज्जती, अवमानना, निरादर, तिरस्कार।
  • अभिजात : संभ्रान्त, कुलीन, श्रेष्ठ, योग्य।
  • अभिप्राय : आशय, तात्पर्य, मतलब, अर्थ, मंशा, व्याख्या, भाष्य।
  • अरण्य : जंगल, अटवी, विपिन, कानन, वन, कान्तार, दावा, गहन, बीहड़, विटप।
  • अजेय : अदम्य, अपराजेय, अपराजित, अजित।
  • अन्य : पर, भिन्न, पृथक, और, दूसरा, अलग।
  • अनुचर : भृत्य, किँकर, दास, परिचारक, सेवक।
  • अनार : शुकप्रिय, रामबीज, दाड़िम।
  • आकाश : नभ, अंबर, व्योम, गगन, अनंत, शून्य,
  • अर्जुन : पार्थ, धनंजय, सव्यसाची, गाण्डीवधारी।
  • अक्षर : हरफ, ब्रह्म, अ आदि वर्ण, अविनाशी।
  • अनाज : अन्न, धान्य, खाद्यान्न, शस्य, गल्ला।
  • अनाथ : यतीम, नाथहीन, बेसहारा, दीन, निराश्रित।
  • आँख : नेत्र, नयन, चक्षु, दृग, लोचन, अक्षि, नजर, दृष्टि, विलोचन।
  • अनुमति : इजाजत, आज्ञा, अनुज्ञा, मंजूरी, स्वीकृति।
  • अप्सरा : देवांगना, सुरांगना, देवकन्या, सुखनिता, अरुणप्रिया।
  • अवनति : अपकर्ष, ह्रास, गिराव, उतार।
  • अशुद्ध : दूषित, अपवित्र, मलिन, गंदा, गलत।
  • अस्त : ओझल, गायब, छिपना, तिरोहित।
  • आम : आम्र, रसाल, सहकार, अमृतफल, अम्बु, सौरभ, मादक।
  • आँसू : अश्रु, नयनजल, नेत्रनीर, नैत्रज, दृगजल, दृगम्बु।
  • आँधी : तूफान, चक्रवात, झंझावत, बवंडर।
  • आँगन : अंगना, प्रांगण, बाखर, बगर, अजिर, बाड़ा।
  • तारापथ, अन्तरिक्ष, दुष्कर, आसमान, महानील, द्यौ, शून्यरव।
  • अग्नि : आग, अनल, पावक, वह्नि, ज्वाला, कृशानु, वैश्वानर, धनंजय, दहन, सर्वभक्षी, जातवेद, हुताशन, हव्यवान, ज्वलन, शिखा।
  • अध्यापक : गुरु, आचार्य, शिक्षक, प्रवक्ता, उपाध्याय।
  • आयु : उम्र, वय, अवस्था, जीवनकाल।
  • अतिथि : मेहमान, पाहुना, आगंतुक, अभ्यागत, बटाऊ।
  • आनन्द : आमोद, प्रमोद, प्रसन्नता, हर्ष, उल्लास, आह्लाद, मोद, मुद, खुशी, मजा, सुख, चैन, विहार।
  • आन : प्रण, प्रतिज्ञा, हठ, शपथ, घोषणा, मर्यादा।
  • आभूषण : जेवर, गहना, भूषण, आभरण, मंडन, अलंकार।
  • आत्मा : चैतन्य, विभु, जीव, सर्वज्ञ, सर्वव्याप्त, देव, चेतनतत्त्व, अन्तःकरण।
  • आज्ञा : आदेश, निदेश, हुक्म।
  • आयुष्मान : चिरायु, दीर्घायु, चिरंजीव।
  • आदर्श : मानक, प्रतिमान, नमूना, प्रतिरूप।
  • आदि : प्रथम, आरम्भिक, पहला, अथ।
  • आपत्ति : विपत्ति, आपदा, संकट, मुसीबत।
  • आश्रय : अवलंब, सहारा, आधार, प्रश्रय, आसरा।
  • आश्रम : कुटी, विहार, मठ, संघ, अखाड़ा।
  • आचरण : व्यवहार, चाल–चलन, बरताव।
  • ईश्वर : परमात्मा, प्रभु, ईश, जगदीश, भगवान, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता, दीनबन्धु, जगन्नाथ, हरि, राम, विश्वम्भर।
  • इन्द्र : महेन्द्र, देवराज, देवेश, सुरपति, शचिपति, वासव, पुरन्दर, सुरेन्द्र, सुरेश, देवेन्द्र, मघवा, शक्र, पुरहूत, देवपति, उर्वशीनाथ, सुनासीर, वज्री, वृत्रहा, नाकपति, सलस्राक्ष।
  • इच्छा : अभिलाषा, आकांक्षा, कामना, चाह, ईप्सा, मनोरथ, ईहा, स्पृहा, उत्कंठा, लालसा, वांछा, लिप्सा, काम, चाव।
  • कबूतर : कपोत, हारीत, परेवा, पारावत, रक्तलोचन।
  • ईर्ष्या : जलन, डाह, द्वेष, खार, रश्क, कुढ़न।
  • ईनाम : उपहार, पुरस्कार, पारितोषिक, बख्शीश।
  • ईमानदारी : सदाशयता, निष्कपटता, दयानतदारी।
  • उपहास : मजाक, खिल्ली, परिहास, मखौल, हास, प्रहसन्न, हँसी, लास।
  • उपवन : बाग, बगीचा, उद्यान, वाटिका, फुलवारी, गुलशन।
  • उत्तम : श्रेष्ठ, उत्कृष्ट, प्रवर, प्रकृष्ट, बेहतरीन, अच्छा।
  • उत्थान : उत्कर्ष, आरोह, चढ़ाव, उत्क्रमण, उन्नति, प्रगति, उन्नयन।
  • उदाहरण : दृष्टांत, मिसाल, नजीर, नमूना।
  • उपकार : भलाई, नेकी, हितसाधन, कल्याण, मदद, परोपकार।
  • उत्सव : समारोह, पर्व, त्यौहार, जलसा, जश्न।
  • उदय : प्रकट होना, आरोहण, चढ़ना।
  • उदास : दुखी, रंजीदा, विरक्त, अनमना, अन्यमनस्क।
  • उद्देश्य : लक्ष्य, ध्येय, हेतु, प्रयोजन।
  • उद्यम : साहस, उद्योग, परिश्रम, व्यवसाय, धंधा, कार्य, व्यापार, कर्म, क्रिया।
  • उपमा : तुलना, मिलान, सादृश्य, समानता।
  • उदर : पेट, कुक्ष, जठर।
  • ऊँट : उष्ट्र, क्रमलेक, मरुयान, लम्बोष्ठ, महाग्रीव।
  • एकान्त : सूना, निर्जन, जनशून्य।
  • ऐश्वर्य : वैभव, सम्पन्नता, समृद्धि, प्रभुत्व, ठाठ–बाट।
  • ओझल : गायब, लुप्त, अदृश्य, अंतर्धान, तिरोभूत।
  • ओस : तुषार, हिमकण, शबनम, हिमबिँदु।
  • ओष्ठ : अधर, रदच्छद, लब, किनारा, होठ, ओँठ।
  • कमल : नलिन, अरविन्द, उत्पल, राजीव, पद्म, पंकज, नीरज, सरोज, जलज, जलजात, वारिज, शतदल, अम्बुज, पुण्डरिक, अब्ज, सरसिज, इंदीवर, ताम्ररस, कंज, वनज, अम्भोज, सहस्रदल, पुष्कर, कुवलय, पङ्करुह, सरसीरुह, कोकनद।
  • कल्पवृक्ष : देवदारु, सुरतरु, मन्दार, पारिजात, कल्पद्रुम, देववृक्ष, सुरद्रुम, कल्पतरु।
  • कवि : कल्पक, सृष्टा, काव्यकार, रचनाकार।
  • कर्ण : अंगराज, सूतपुत्र, सूर्यपुत्र, राधेय, कौन्तेय।
  • करुणा : दया, प्रसाद, अनुग्रह, अनुकंपा, कृपा, मेहरबानी।
  • कर्ज : ऋण, उधार, देनदारी, देयता।
  • कलंक : लांछन, दोष, दाग, तोहमत, धब्बा, कालिख पोतना।
  • कमर : कटि, श्रोणि, लंक, मध्यांग।
  • कस्तूरी : मृगनाभि, मृगमद, मदलता।
  • कपड़ा : वस्त्र, चीर, वसन, अंबर, पट, कर्पट, दुकूल, परिधान।
  • कष्ट : दुःख, दर्द, पीड़ा, मुसीबत, व्यथा, कठिनाई, व्याधि, कलेश, विषाद, संताप, वेदना, यातना, यंत्रणा, पीर, भीर, संकट, शोक, श्वेद, क्षोम, उत्पीड़न।
  • कामदेव : काम, अनंग, मदन, मनोज, मन्मथ, कन्दर्प, स्मर, रतिपति, पुष्पधन्वी, मयन, मीनकेतु, पंचशर, मकरध्वज, मनसिज, पुष्पशायक, पंचबाण, मनोभव, कुसुमायुध, मार, सारंग, दर्पक, शम्बरारि।
  • कान : कर्ण, श्रवण, श्रवणेन्द्रिय, श्रोत, श्रुतिपुट, श्रुतिपटल।
  • कृष्ण : श्याम, कन्हैया, वासुदेव, मोहन, राधास्वामी, नंदलाल, मुरलीधर, बनवारी, माधव, मधुसूदन, गिरिधर, गोपाल, गोपीवल्लभ, विश्वंभर, नटवर, गिरधारी, चतुर्भुज, नारायण, गोविन्द, केशव, जनार्दन, पुरुषोत्तम, अच्युत, गरुड़ध्वज, कैटमारि, घनश्याम, चक्रपाणि, पद्मनाभ, राधापति, मुकुन्द।
  • कान्ति : चमक, आभा, प्रभा, सुषमा, द्युति।
  • किरण : रश्मि, कर, मरीचि, मयूख, अंशु, दीधिति, वसु, ज्योति, दीप्ति।
  • किताब : पोथी, ग्रन्थ, पुस्तक, गुटका।
  • किनारा : तट, तीर, कूल, पुलिन, पर्यंत, बेलातट।
  • कुबेर : यक्षराज, धनाधिप, धनद, धनपति।
  • कुत्ता : श्वान, शुनक, गंडक, कूकर, श्वजन।
  • क्रूर : निष्ठुर, निर्मोही, बर्बर, नृशंस, निर्दयी।
  • क्रोध : गुस्सा, रीस, अमर्ष, रोष, शेष, कोप, कोह, प्रतिघात।
  • कृतज्ञ : आभारी, उपकृत, अनुगृहीत, कृतार्थ, ऋणी।
  • कृषक : किसान, हलवाहा, भूमिसुत, खेतिहर, कृषिजीवी, हलधर, अन्नदाता, भूमिपुत्र।
  • कलश : घट, घड़ा, गागर, गगरी, मटका, घटिका, कुंभ, कुट।

महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द/समानार्थी शब्द - परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द - कक्षा पांचवी के लिए पर्यायवाची शब्द - कक्षा सातवीं के लिए पर्यायवाची शब्द - लिस्ट ऑफ पर्यायवाची शब्द इन हिंदी


इस लेख में हमने आपको कई सारी पर्यायवाची शब्दों के बारे में बताया है। उम्मीद है यह सारे "पर्यायवाची शब्द" आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी। हमें यकीन है आप इसे अच्छे से याद करने की पूरी कोशिश करें।

यदि आप और भी अलग-अलग "शब्दों की पर्यायवाची शब्द" जानना चाहते हैं तो, आप हमारी "पर्यायवाची शब्द" वाली "कैटेगरी" पर जाकर अलग-अलग शब्दों की "पर्यायवाची शब्द" जान सकते हैं। जिसमे हमने, उनके अर्थ, एवं वाक्य प्रयोग के बारे में भी बताया है। आप इस लेख को अपने दोस्तों को जरूर भेजें, ताकि उनकी भी मदद हो सके।

यदि आप हमारे द्वारा डाली गई नए - नए लेखों की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन जरूर करें। आप हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

आप हमसे जुड़ने के लिए टेलीग्राम ग्रुप ज्वाइन करें और यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें। Telegram, Youtube

एक टिप्पणी भेजें

आप हमसे जुड़ने के लिए टेलीग्राम ग्रुप ज्वाइन करें और यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें। Telegram, Youtube

Post a Comment (0)

और नया पुराने